मेथी दाने की चटनी – Methi ki Chutney

, , Leave a comment

मेथी की चटनी (मेथी की लौंजी) बहुत स्वादिष्ट और पौष्टिक होने के साथ-साथ सभी खाने को पचाने वाली होती है। यह चटनी पूरी और कचौड़ी के साथ परोसी जाती है जिससे हमारा हाजमा दुरुस्त रहता है।

मुख्य सामग्री मेथी दाना (मेथी के बीज) और कुछ चुनिंदा मसालों के साथ गुड़ या चीनी अथवा दोनों को मिला कर इसको बनाया जाता है।

मीठी चटनी को सुस्वादु बनाने के लिये आप अपने स्वादानुसार इसमें अदरक का लच्छा, किशमिश, काजू अथवा अंगूर मिला सकते हैं।

इस सचित्र मेथी की चटनी रेसिपी में हमने आपके साथ ईजी स्टेप्स सहित इसको बनाने का तरीका आवश्यक सामग्री और उपयोगी सुझावों के साथ साझा किया है। उपयोगी सुझावों में स्वाद की विविधता, स्टोर करने की सावधानियाँ और मेथी खाने के फायदे भी बताये हैं…

 maithi ki chatni

मेथी की चटनी बनाने की सामग्री:-

  • मेथी दाना (पानी में भिगो लें) – ½ कप
  • किशमिश – ½ कप
  • अदरक का लच्छा – 1 चम्मच
  • सरसों का तेल – 4 चम्मच
  • राई दाना – ¼ चम्मच
  • जीरा – ½ चम्मच
  • लाल मिर्च (पाउडर) – ½ चम्मच
  • कालीमिर्च (पाउडर) – ½ चम्मच
  • चीनी – 1 कप
  • गुड़ – 1 कप
  • काला नमक – ½ चम्मच
  • आमचूर (पाउडर) – 1 चम्मच
  • नींबू का रस – ½ चम्मच
  • नमक – स्वादानुसार

मेथी की चटनी बनाने की विधि :-

methi gud ki chutni step 1

मेथी की चटनी (लौंजी) बनाने के लिये सबसे पहले एक बर्तन में मेथी दाने को धो कर साफ पानी में एक घंटे भिगो दीजिये।

methi gud ki chutni step 2

एक पेन में सरसों का तेल गर्म करके उसमें राई दाना, ज़ीरा और सौंफ और अदरक को भीनी-भीनी खुशबू आने तक भून लीजिये।

methi gud ki chutni step 3

भुने सुगंधित मसाले में भीगा हुआ मेथी दाना को पानी से निकाल कर निचोड़ कर मिला दीजिये।

अब इस मसाले में मिक्स मेथी दाने को एक मिनट लगातार चलाते हुए भूनिये।

methi gud ki chutni step 4

इस छोंके में लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, काली मिर्च पाउडर के साथ चीनी और गुड़ को मिला कर चीनी और गुड़ के पिघलने तक पकाइये।

पकी चटनी में काला नमक, अमचूर और स्वादानुसार नमक डालकर चलाते हुए अच्छी तरह से मिला लीजिये।

methi gud ki chutni step 5

दूसरे छोटे पेन में दो चम्मच तेल के साथ किशमिश के दानों को भूनिये और मेथी की चटनी में मिक्स कर दीजिये।

इसके बाद चटनी में नींबू का रस मिलाइये।

आपकी मेथी दाने की चटनी (लौंजी) तैयार है। ठंडा होने के बाद पूरी, कचौरी के साथ आवश्यकतानुसार परोसिये।

.

उपयोगी सुझाब:

आइये जानते हैं कुछ ऐसे सुझाव जो की स्वादिष्ट मेथी की चटनी बनाने और स्टोर करने में निश्चित ही आपको उपयोगी लगेंगे….

स्वाद में बदलाव एवं बनाने सम्बन्धी सुझाव :-

मेथी की चटनी को ज्यादा गाढ़ा या ज्यादा पतला मत बनाइये, चटनी ऐसी हो जिसको नाश्ते या पूरी-कचोड़ी अथवा दाल-चावल के साथ परोसा जा सके।

मेथी की लौंजी में महक बढ़ाने के लिये तड़के में हींग का भी उपयोग कीजिये, हींग चटनी को सुगंधित और ज्यादा पाचक बनाएगी।

अगर आप मैथी की चटनी का स्वाद थोड़ा तीखा पसंद करते हैं तब कश्मीरी लाल मिर्च के पाउडर की मात्रा बढ़ा दीजिये इससे चटनी का रंग और स्वाद दोनों चटख हो जाएगा।

स्वाद में बदलाव और थोड़ा खट्टा स्वाद बढ़ाने के लिये चटनी में एक चुटकी साइट्रिक ऐसिड मिलाइये मेथी की चटनी का कसैला स्वाद अच्छा लगेगा।

स्टोर करने एवं सर्व करने सम्बन्धी सुझाव :-

तैयार मेथी की चटनी को एयर-टाइट डिब्बे में स्टोर करके एक माह तक खाया जा सकता है।

उत्तर भारत में मेथी की चटनी को भंडारे में कचौड़ी और आलू की सब्जी के साथ जरूर सर्व किया जाता है।

दक्षिण भारत में लससन मिली मेथी की चटनी डोसे, इडली या चावल के साथ अवश्य सर्व की जाती है।

सभी चटनियों का स्वाद मीठा या खट्टा होता है पर मेथी की चटनी खट्टे-मीठे और कसैले स्वाद वाली होती है यही इस चटनी की विशेषता है।

मेथी खाने के फायदे :-

मेथी (मेथीका) के दानों में आइरन, कैल्शियम, फास्फोरस एवं प्रोटीन के साथ-साथ विटामिन K प्रचुर मात्रा में होता है। इस लिए मेथी का सेवन हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत उपयोगी है।

मेथी पेट के लिए काफी अच्छी होती है। अगर पाचन दुरुस्त रहे तब स्वास्थ्य भी ठीक रहता है और खूबसूरती भी बनी रहती है।

अन्य स्वादिष्ट चटनी की सचित्र रेसीपीज :-

Recipe Summary:

Share Recipe!
 

Leave a Reply

Rate Racepe!*