लौकी का रायता बनाने की विधि – Lauki ka Raita

, , 1 Comment

लौकी हरी सब्जियों में एक बहुत ही स्वास्थवर्धक सब्जी है, जल्दी से बन जाने वाला ताजे दही और लौकी का स्वादिष्ट रायता व्रत उपवास में स्फूर्ति और ताजगी का बहुत ही टेस्टी स्रोत है।

लौकी की तासीर ठंडी है और लौकी में पानी की मात्रा बहुत अधिक होती है इसलिए गर्मियों के मौसम में लौकी का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। कुछ लोग तो लौकी का जूस निकाल कर भी पीते है। लौकी लंबी और गोल दो तरह की होती है, गोल लौकी को बिहारी लौकी भी बोला जाता है। लौकी को घिया और दूधी भी कहते हैं।

मीठे और नमकीन अनेक स्वादिष्ट व्यंजन लौकी से बनाये जाते हैं जिनमें लौकी की खीर, लौकी का हलवा, तरी वाली लौकी की सब्जी और लौकी की सूखी सब्जी प्रमुख है। लौकी को फलहार माना जाता है इसलिए व्रत उपवास में लौकी से बने सभी पकवान खाये जाते है। लौकी के स्वादिष्ट रायते को फलहारी थाली में सिंघाड़े आटे के पराठे, व्रत वाली लौकी की सब्जी, उपवास वाली अरबी की सूखी सब्जी, हरे धनिये की चटनी और मथुरा के पेड़ों के साथ सर्व करें।

चित्रों के साथ आप आसानी से जान लीजिये कि लौकी का रायता कैसे बनाते हैं ? घिया के रायते में तड़का कैसे लगाएं? लौकी के रायता सेवन के क्या फायदे है ? दूधी का रायता बनाने में किन सामग्री की जरूरत होती है ?

 Lauki ka Raita

लौकी का रायता बनाने की सामग्री:-

  • दही – 2 कप
  • दूध – आधा कप
  • लौकी – 200 ग्राम
  • हरी मिर्च (बारीक़ कटी हुई) – 2
  • जीरा – 1 चम्मच
  • शुद्ध घी – 2 चम्मच
  • धनिया पत्ती – गार्निश करने के लिये
  • नमक या सेंधा नमक – स्वादानुसार (व्रत/ उपवास में सेंधा नमक ही डालें)

लौकी का रायता बनाने की विधि:-

 ghiya raita step 1

लौकी को छील कर कद्दूकस से घिस लीजिये।

 ghiya raita step 2

एक पेन में शुद्ध घी के साथ जीरे को तड़का लीजिये।

 ghiya raita step 3

तैयार तड़के में घिसी हुई लौकी के साथ हरी मिर्च को भून लीजिये।

 ghiya raita step 4

दही और दूध को ब्लेन्ड कर लीजिये। क्रीमी दही में स्वादानुसार नमक मिला लीजिये।

 ghiya raita step 5

भुनी हुई लौकी को दही में डालिये, रायते को बर्फ के टुकड़ों और धनिये की पत्ती से गार्निश करके सर्व कीजिये।

.

उपयोगी सुझाब:

रायते में नमक सर्व करते समय ही डालें, इससे दही खट्टा नहीं होगा।

आप स्वादानुसार हिंग, जीरे और लाल मिर्च का तड़का तैयार रायता में बाद को भी लगा सकते हैं।

अगर व्रत उपवास न हो तब चाट मसाला डाल कर रायते को सर्व कीजिये बहुत टेस्टी लगेगा।

रायते को बर्फ डालने की जगह फ्रिज में ठंडा करके सर्व करें, रायता पतला नहीं होगा।

लौकी को कद्दूकस करके उबाल लीजिये, लौकी का पानी निचोड़ कर दही में डाल कर भी रायता बनाया जाता है परंतु पानी निचोड़ने से लौकी के सारे पौष्टिक गुण बह जाते हैं।

जल्दी पचने वाला दूधी, लौकी या घीया का रायता कम कैलोरी वाला होने के साथ भरपूर एनर्जी देता है। इसमें फाइबर की मात्रा बहुत होती है जिससे आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगती। लौकी और दही आपके शरीर को हाइड्रेट रखने में भी सहायता करते है।

Recipe Summary:

Share Recipe!
 

One Response

  1. Achla Arya

    Yammmmýyyy

    (5/5)
    Reply

Leave a Reply

Rate Racepe!*