लौकी की सब्जी – घीया की सब्जी – Lauki ki Sabji Kaise Banaen

reena gupta By Reena Gupta, On

लौकी की सब्जी गर्मियों के मौसम में खाई जाने वाली प्रमुख हरी सब्जी है। इस लौकी की सब्जी रेसिपी में हम आपको कुकर में पंजाबी स्टाइल लौकी की सब्जी बनाने की विधि चित्रों और आसान स्टेप्स के साथ बता रहे हैं।

घिया और दूधी लौकी के ही प्रचलित नाम हैं। लौकी को सात्विक आहार माना गया है इस लिये लौकी से बने सभी पकवानों को व्रत / उपवास में भी खाया जाता है।

स्वास्थ की दृष्टि से बहुत लाभदायक लौकी की तरी वाली सब्जी और लौकी की सूखी सब्जी दोनों बनाई जा सकती हैं। आप मसालों और मिर्च की मात्रा कम या ज्यादा करके सब्जी को अपने स्वादानुसार मसालेदार, तीखा या सादा बना सकते हैं।

फुल्के या पराठों के साथ सर्व की जाने वाली मसालेदार लौकी की सब्जी को लंच या डिनर किसी भी समय सर्व कीजिये परिवार में सभी इसको पसंद करेंगे।

पचाने में आसान लौकी एक औषधि है लौकी का प्रयोग सलाद के रूप में अथवा रस निकालकर या सब्ज़ी के रुप में एक लंबे समय से किया जाता रहा है।

आइये जानें लौकी की सब्जी बनाने का तरीका, आवश्यक सामग्री और अनेक ऐसे सुझाव जो आपको निश्चित ही उपयोगी लगेंगे….

 saada laukee kee taree sabjee

लौकी की सब्जी बनाने की सामग्री:-

  • लौकी, कटी हुई (Bottle Gourd) – 2 कप
  • टमाटर, बारीक कटा हुआ (Tomato) – 1 (व्रत आहार में न डाले)
  • जीरा (Cumin Seed) – 1 चम्मच
  • हींग (Asafoetida) – 1 चुटकी (व्रत आहार में न डाले)
  • हल्दी पाउडर/ पिसी हल्दी (Turmeric) – 1/2 चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर/ पिसी मिर्च (Red chilli ) – स्वादानुसार
  • अमचूर / पिसी खटाई(Dried Mango Powder) – 1 चम्मच
  • धनिया पाउडर / पिसा धनिया (Coriander Powder) – 1 चम्मच
  • शुद्ध घी / देसी घी (Desi Ghee) – 2 चम्मच
  • नमक या सेंधा नमक (Salt or Rock Salt)- स्वादानुसार
  • हरा धनिया बारीक कटा हुआ (Coriander) – गार्निश करने के लिये
व्रत उपवास के व्यंजन बनाने में नमक की जगह सेंधा नमक का प्रयोग करें, कुछ जगह पर फलहारी व्यंजन में टमाटर, हल्दी और हींग नहीं खाई जाती है अतः इनको डाले बिना ही स्वादिष्ट सब्जी बनायें।

लौकी की सब्जी बनाने का तरीका :-

 lauki ki sabji step 1

लौकी को छील कर उसको छोटे-छोटे टुकडो में काट कर धो लीजिये।

 lauki ki sabji step 2

एक कुकर में तेल गर्म करें, तेल में हीग और जीरा तड़काने के बाद हल्दी, धनिया, अमचूर और मिर्च पाउडर डालें।

 lauki ki sabji step 3

तैयार तड़के में टमाटर एवं स्वादानुसार नमक को डाल कर चला दीजिये।

 lauki ki sabji step 4

तैयार मिक्स्चर में कटी हुई लौकी डाल दीजिये, कुकर का ढक्कन बंद करके दो सीटी लगा लीजिये।

 lauki ki sabji step 5

कुकर का प्रेशर खत्म होने पर ढक्कन खोलिए, सब्जी को हरे धनिये से गार्निश कर लीजिये।

 lauki ki sabji step 6

स्वादिष्ट लौकी / घिया / दूधी की सब्जी तैयार है, पराठे या फुल्के के साथ सर्व कीजिये।

.

उपयोगी सुझाब:

आइये जानते हैं कुछ ऐसे सुझाव जो की स्वादिष्ट लौकी की सब्जी बनाने, सर्व करने और स्टोर करने में निश्चित ही आपकी मदद करेंगे….

लौकी छाँटने और काटने सम्बन्धी सुझाव :-

बाजार से ज्यादा बड़े साइज़ की लौकी मत लीजिये क्यूँकी यह पकी हुई होती है, और इसके बीज भी बड़े-बड़े होते हैं। हरे रंग की मीडियम साइज की ऐसी लौकी लीजिये जो दबाने में टाइट हो।

सब्जी बनाने के लिये पहले लौकी को छीलिए फिर उसको एक इंच लंबे और आधा इंच चोड़े पीसों में काट लीजिये, ज्यादा छोटे पीस करी में घुल जाते हैं और ज्यादा बड़े पीसों को गलने में ज्यादा समय लगता है।

लौकी के टुकड़ों को काटते समय अगर कोई बड़े बीज हों तब उनको हटा दीजिये।

लौकी की सब्जी के स्वाद में बदलाव सम्बन्धी सुझाव :-

लौकी की सब्जी को कम पानी डाल कर इन्हीं सामग्री के साथ पका कर आप अपनी पसंदनुसार स्वादिष्ट सूखी लौकी की सब्जी बना लीजिए।

अगर आपको ज्यादा तरी वाली लौकी की सब्जी पसंद है तब पकाते समय स्वादानुसार पानी और नमक बढ़ा दीजिये।

चने की दाल को लौकी के पीसों के साथ तड़के में डाल कर इसी तरह से पका लीजिये, आपकी चना दाल लौकी की सब्जी तैयार हो जाएगी।

बेसन वाली लौकी की सब्जी बनाने के लिये तड़का तैयार करते समय तड़के में थोड़ा बेसन मिला लीजिये बहुत टेस्टी सब्जी बनेगी।

टेस्ट चेंज के लिये लौकी की सब्जी में कभी-कभी ताजा नारियल की क्रीम मिक्स कीजिये, घिया की सब्जी का यह दक्षिण भारतीय स्वाद परिवार में सभी को बहुत पसंद आयेगा।

सब्जी को स्टोर करने और सर्व करने सम्बन्धी सुझाव :-

लौकी की सब्जी को फ्रिज में दो दिनों तक स्टोर करके खा सकते हैं।

सर्व करते समय लौकी की सब्जी के ऊपर थोड़ा दही डाल दीजिये, दही वाली लौकी की सब्जी सभी को बहुत टेस्टी लगेगी।

थोड़ा नीबू का रस डाल कर लौकी की सब्जी सर्व कीजिये, इस सब्जी में हल्का खट्टा स्वाद बहुत अच्छा लगता है।

दोपहर और रात के भोजन के समय मेन डिश के रूप में चावल, रोटी या पराठे के साथ लौकी की सब्जी को सर्व किया जा सकता है।

लौकी खाने के फायदे/लौकी क्यों खानी चाहिये :-

लौकी में कैल्शियम, मैग्नीशियम विटामिन्स और पानी के अलावा फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जिससे पाचन तंत्र मजबूत होता है।

लौकी में मोजूद नेचुरल वॉटर आपका नेचुरल ग्लो बढ़ाता है।

लौकी फाइबर से भरपूर होती है जिससे आपको लंबे समय भूख नहीं लगती इस तरह से लौकी वजन कम करने में आपकी मदद करती है।

लौकी नाम क़ी सब्ज़ी को हल्का न समझें, इसके गुण बड़े भारी हैं ,लेकिन शरीर पर लौकी का प्रभाव बड़ा ही हल्का और सुखदाई है।

लौकी के अन्य नाम :-

लौकी के हिन्दी में अन्य नाम घिया, दूधी, सोरकाया, सोरकाई हैं जबकी लौकी को बंगाली में लाऊ और तमिल में चूँटेककाई कहा जाता है। यह अंग्रेजी में बाटल गार्ड के नाम से प्रचलित है।

कुछ अन्य रोजाना खाने वाली सब्जियों की सचित्र रेसीपीज :-

Recipe Summary:

Share Recipe!
 

One Response

  1. वसुधा गर्ग, जबलपुर मध्य प्रदेश

    बहुत टेस्टी सब्जी बनी, आपने सुझाब बहुत अच्छे दिए हैं यह बाकाई उपयोगी हैं। थैंक्स मेम!!

    (5/5)
    Reply

Leave a Reply

Rate Racepe!*