आम का मुरब्बा बनाने की विधि – Aam Ka Murabba

reena gupta By Reena Gupta, On

आम का मुरब्बा, कच्चे आम के खट्टे-मीठे स्वाद का आनंद पूरे साल लेने का सबसे अच्छा व्यंजन है। मुरब्बा परम्परागत रूप से मीठा होता है। यह भारत और पाकिस्तान में काफी प्रचलित है।

कच्चे आम (कैरी) का मुरब्बा बनाने की मुख्य सामग्री कच्चे आम और चीनी है, इसको आप अपने स्वादानुसार गुड़ की चाशनी में भी बना सकते हैं और इसमें सुगंध और टेस्ट के लिये दालचीनी, लौंग एवं इलायची का स्वाद भी दिया जा सकता है।

आम के मुरब्बे को उत्तर भारत में भोजन के साथ साइड डिश के रूप में अथवा भोजन के बाद डेसर्ट के रूप में सर्व किया जाता है।

कच्चे आम का मुरब्बा रेसिपी में हमने आपके साथ अनेक चित्रों और ईजी स्टेप्स के साथ आम का मुरब्बा बनाने का तरीका, स्वाद में बदलाव और स्टोर करने के तरीके के साथ साझा किया है आइये जाने कच्ची कैरी का मुरब्बा बनाने की सामग्री……

 murabba aam ka

आम का मुरब्बा बनाने की सामग्री:-

  • कच्चा आम (Raw Mango) – 1 किलो
  • चीनी (Sugar) – 1 किलो
  • केसर / जाफरान (Saffron) – 1 चुटकी
  • पानी (Water) – 1/2 गिलास

आम का मुरब्बा बनाने की विधि:-

 murabba aam ka step 1

01: आम का मुरब्बा बनाने के लिये सबसे पहले कच्चे आमों को छील लीजिये और चाकू की सहायता से चित्रानुसार उनका गूदा निकल लीजिये।

 murabba aam ka step 2

02: इस आम के गूदे को आधा-आधा इंच के टुकड़ो में काट लीजिये।

 murabba aam ka step 3

03: एक कढ़ाई ले कर उसमे आम के टुकड़े,चीनी और पानी डाल कर 20 से 25 मिनट्स तक चित्रानुसार पकाइये।

 murabba aam ka step 4

04: बीच-बीच में करछली की सहायता से उसे चलाते रहिये।

 murabba aam ka step 5

05: आप देखेंगे कि आम के टुकड़ों का रंग बदल रहा है। और यह हल्के पारदर्शी होने लगे हैं।

 murabba aam ka step 6

06: जब चाशनी थोड़ी गाढ़ी होने लगे तब उसमे केसर मिक्स कर दीजिये ,जिससे मुरब्बे में केसर की मोहक सुगंध और रंग आने लगेगा।

 murabba aam ka step 7

07: पकने के बाद मुरब्बे वाली कढ़ाई को गैस से उतार कर ठंडा होने के लिए रख दीजिये।

 murabba aam ka step 8

08: आपका स्वादिस्ट आम का मुरब्बा तैयार हो गया है।

 murabba aam ka step 9

09: अब आप इसे शीशे के साफ़ और सूखे जार में स्टोर करके रख दीजिये और जब भी इच्छा हो सर्व कीजिये और स्वयं भी खाइये..

.

उपयोगी सुझाब:

आइये जानते हैं कुछ ऐसे सुझाव जो की स्वादिष्ट आम का मुरब्बा बनाने और स्टोर करने में निश्चित ही आपको उपयोगी लगेंगे….

आम का मुरब्बा बनाने के लिये कैसे आम खरीदें :-

गर्मियों के शुरू होते ही कच्चे चटख हरे रंग के थोड़े बड़े साइज़ के टाइट गूदे वाले तोता परी कच्चे आम (कच्ची कैरी) मुरब्बा बनाने के लिये बाजार में आसानी से मिल जाती है।

मुरब्बा बनाने के लिए सख्त बिना रेशे वाले आम अच्छे होते हैं।

स्वाद में बदलाव एवं बनाने सम्बन्धी सुझाव :-

आप अपने स्वाद के अनुसार केसर की जगह मुरब्बा पकाते समय दालचीनी, लौंग या लाल इलायची के दाने मिक्स कर सकते हैं।

मुरब्बे को स्वादानुसार ज्यादा खट्टा करने के लिए इसमें साइट्रिक एसिड या सिरका डाला जा सकता है।

चीनी की जगह इसी मात्रा में गुड़ और पानी के साथ गुड़ वाला कच्चे आम का मुरब्बा भी इसी तरह बनाया जा सकता है।

कुछ जगह पर आम के टुकड़ों को उबालते समय पानी में चूना या नमक भी डाला जाता है जिससे मुरब्बा का रंग साफ़ आता है, अगर आप चुना या नमक डालना चाहे तब एक किलो आम में एक छोटी चम्मच चूना मिला लें।

स्टोर करने सम्बन्धी सुझाव :-

आम के मुरब्बे को नमी से बचा कर स्टोर करना चाहिये अतः स्टोर करने वाले काँच या प्लास्टिक के डिब्बे को धो कर अच्छे से सुखा लीजिये, मुरब्बे को हमेशा साफ और सूखे चम्मच से निकाला कीजिये।

अगर मुरब्बा ज्यादा जम गया है तब दो चम्मच गरम पानी मुरब्बे में मिला लें, मुरब्बा अच्छा हो जायेगा।

आम का मुरब्बा खाने के फायदे :-

आम का मुरब्बा युनानी दवाई का सबसे प्रचलीत एवम असरदार रूप है, युनानी वैद्यकीय प्रणाली मे मुरब्बा, चटनी और माजुन ही दवा का स्वरुप है. इसमें मिठास के लिये गुड और चीनी दोनो का ही उपयोग हो सकता है।

आम का खट्टा मीठा मुरब्बा खाने में बहुत ही टेस्टी होता है। आम में एंटी-ऑक्सीडेंट्स, फाइबर, विटामिन्स और मिनरल्स प्रचुर मात्रा में होते हैं। आम का मुरब्बा कब्ज, स्कर्वी, आंखों के लिए, इम्यून सिस्टम बूस्ट करने में और हमारी त्वचा के लिए बहुत लाभदायक होता है।

अन्य स्वादिष्ट चटनी की सचित्र रेसीपीज :-

Recipe Summary:

Share Recipe!
 

One Response

  1. Achla Arya

    Very nice recipe

    (5/5)
    Reply

Leave a Reply

Rate Racepe!*