गाजर का मुरब्बा बनाने की विधि – Carrot Murabba

reena gupta By Reena Gupta, On

सर्दियों में मिलने वाले गाजर के स्वास्थ्यवर्धक गुणों को गर्मियों में स्वाद के साथ सेवन करने का एक जरिया गाजर का मुरब्बा है।

गाजर एक सुपरफूड है इसमें अनेक विटामिन्स और मिनरल्स भरे हुए हैं। अनेक स्वादिष्ट व्यंजन गाजर से बनाये जाते है जैसे आलू गाजर की सब्जी, गाजर का हलुआ, गाजर की वर्फी इत्यादि कच्ची गाजर को सलाद के रूप में भी खाया जाता है ऐसा ही एक स्वादिष्ट व्यंजन गाजर का मुरब्बा है इसको आसानी से बना कर स्टोर करके आप नित्य गाजर का सेवन कर सकते हैं।  murabba gajar ka

मुरब्बा बनाने की सामग्री:-

  • गाजर – 1 किलो
  • चीनी – 1/2 किलो
  • केसर – 1 चुटकी
  • नींबू का रस – 1 चम्मच

मुरब्बा बनाने की विधि:-

 gajar ka murabba  step 1

01:सबसे पहले गाजर को छील लें। उसके बाद गाजर को लंबे – लंबे टुकड़ों में काट कर धो लें।

 gajar ka murabba  step 2

02: अब हम एक भगोने में पानी लेंगे और उसमें गाजर के टुकड़े डाल कर 10 मिनट के लिए उबाल लेंगे। (ध्यान रहे हमे गाजरों को आधा ही उबालना है।)

 gajar ka murabba  step 3

03:आधा किलो चीनी में 250 ग्राम पानी डाल कर चासनी तैयार करेंगे।

 gajar ka murabba  step 4

04: अब हमारी गाजरें उबाल कर तैयार हो गई होंगी।छलनी की सहायता से इनका सारा पानी निकल दें।

 gajar ka murabba  step 5

05: उबलती हुई चाशनी में नींबू का रस डालेंगे ,जिसके डालने के बाद झाग उठेंगे ,चम्मच की सहायता से झाग हटा देंगे ,इस तरह आपकी चासनी बिल्कुल साफ़ हो जयेगी।

 gajar ka murabba  step 6

06: चासनी में गाजरों के टुकड़ो के साथ केसर को भी डाल देंगे ओर अच्छी तरह मिक्स कर लेंगे।

 gajar ka murabba  step 7

07: अब गाजरों को चाशनी गाढ़ी होने तक(चासनी एक तार की आ जाये) पकाएं। तो समझें आप का मुरब्बा तैयार हो गया है।

 gajar ka murabba  step 8

08: लीजिये तैयार हो गया गाजर का स्वादिष्ट मुरब्बा, अब इसे ठंडा करके सूखे और साफ़ शीशे के जार में स्टोर करके रखेंगे।

.

उपयोगी सुझाब:

चाशनी जांचने के लिए एक बूंद उंगली और उंगूठे के बीच चिपका कर देखिये, एक तार निकलते हुये चाशनी निकलती है, ये ही एक तार की चाशनी है।

कुछ समय बाद अगर मुरब्बा ज्यादा जम जाए तब थोड़ा गरम पानी मुरब्बे के डिब्बे में डाल कर हिला लें, मुरब्बा ठीक हो जायेगा।

अगर बाद में आपको मुरब्बा सूखा सूखा लग रहा है तब अलग से चाशनी बना कर मुरब्बे में मिला लें मुरब्बा बहुत स्वादिष्ट हो जाएगा।

गाजर काटते समय गाजरों का सफ़ेद भाग हटा देंगे तब मुरब्बा और भी स्वादिष्ट बनेगा।

नीबू के रस से चाशनी ट्रांसपेरेंट बनती है और स्टोर करने पर चाशनी में चीनी के दाने नहीं जमते जिससे मुरब्बा साफ़ और टेस्टी बनता है इसलिए नीबू का रस जरूर डालें।

मुरब्बे को हमेशा सूखे और साफ़ डिब्बे में स्टोर करें और सूखी चम्मच से ही निकलना चाहिए।

Recipe Summary:

Share Recipe!
 

Leave a Reply

Rate Racepe!*