पौष्टिक मूंग दाल की खिचड़ी – Dal Khichdi Recipe

, , 1 Comment

Advertisement

दाल खिचड़ी भारतीय भोजन में एक पारम्परिक सम्पूर्ण आहार है, दलिया, मूंग की दाल और चावल को मिला कर इस पौष्टिक और जल्दी पच जाने वाली दाल खिचड़ी को पतले दही ( मट्ठा ) और नींबू के खट्टे अचार के साथ सर्व किया जाता है।

दाल खिचड़ी को मरीजों के अलावा स्वस्थ व्यक्ति भी बहुत रुची से खाते हैं, कुकर में यह पौष्टिक और स्वादिष्ट खिचड़ी बहुत आसानी और जल्दी से बन जाती है आप भी इसकी रेसिपी को जान लीजिये ….

 Nutritious lentils polenta

दाल खिचड़ी बनाने की सामग्री :-

  • चावल – 1 कप
  • मूंग की दाल – 1/2 कप
  • मसूर दाल या दलिया – 1/4 कप
  • अदरक (कद्दूकस किया हुआ) – 1 चम्मच
  • हरी मिर्च (कटी हुई) – 2
  • टमाटर (बारीक कटा हुआ) – 1
  • हल्दी पाउडर – 1 चम्मच
  • जीरा – 1 चम्मच
  • हींग – 1 चुटकी
  • लाल मिर्च साबुत – 2
  • शुद्ध घी – 2 -3 चम्मच
  • नमक – स्वादानुसार

दाल खिचड़ी बनाने की विधी :-

मूँग मसूर की दाल और चावल को धो कर आधे घंटे के लिये पानी में भिगो दीजिये।

Advertisement

एक कुकर में तीन कप पानी डाल कर मिक्स दाल चावल को इसमें पलट लीजिये।

अब इसमें नमक और हल्दी मिला कर रमचे से चला लीजिये।

गैस ऑन करके कुकर में दो सीटी लगा कर खिचड़ी को पका लीजिये।

अब बारी है तड़के की इसके लिए एक पेन में घी गर्म करके उसमें हींग, जीरे और लाल मिर्च को तड़का लीजिये।

तैयार तड़के में टमाटर, हरी मिर्च और अदरक मिला कर सबको अच्छी तरह से फ्राई कर लीजिये।

तड़के में दाल खिचड़ी को पलट कर मिला कर हल्का फ्राई कर लीजिये।

आपकी स्वादिष्ट पौष्टिक मूंग दाल की टेस्टी खिचड़ी तैयार है, दही, अचार या चटनी के साथ सर्व कीजिये।

उपयोगी सुझाब:

स्वादानुसार तड़के में एक प्याज को बारीक काट कर भी भूना जा सकता है।

दाल खिचड़ी हरी मूंग की छिलके वाली दाल या पीली मूंग दाल किसी से भी बनाई जा सकती है।

चावलों की जगह केवल दलिये और दाल से भी पौष्टिक खिचड़ी बना कर मरीजों को सर्व की जा सकती है यह खिचड़ी भी बहुत टेस्टी बनती है।

खिचड़ी को सर्व करते समय आप इसमें ऊपर से स्वादानुसार अमूल बटर या शुद्ध घी स्वाद और खुशबु बढ़ाने के लिये डाल दीजिये।

बुजुर्गों और मरीजों के लिये पतली खिचड़ी निकाल कर बाकी परिवार के लिये खिचड़ी को थोड़ा थिक (गाढ़ी) कर लीजिये, दाल खिचड़ी बहुत स्वादिष्ट लगेगी।

Recipe Summary:

 

One Response

  1. Preeti Bhattacharya, Neaderland

    Your way of explaining and teaching is very good. Thank you very happy to see pictures

    (5/5)
    Reply

Leave a Reply

Rate Racepe!*