साबूदाने का पुलाव कैसे खिला खिला बनाएं – Sabudana Khichdi

, , Leave a comment

Advertisement

आज हम साबूदाने का स्वादिष्ट फलाहारी पुलाव बनाना बता रहे हैं. वैसे तो साबूदाने का उपयोग पापड़, खीर और खिचड़ी बनाने में होता है, सूप और अन्य चीज़ों को गाढ़ा करने के लिये भी इसका उपयोग होता है।

 sabudaana khichdi

साबूदाने की खिचड़ी बनाने की सामग्री:-

  • साबूदाना – 100 ग्राम
  • आलू – 2 छोटे
  • मूँगफली के दाने – 50 ग्राम
  • हरी मिर्च (बारीक़ कटी हुई) – 2-3
  • नमक – स्वादानुसार
  • घी / तेल – 4 बड़ा चम्मच
  • नीबू का रस – 1 बड़ा चम्मच
  • हरा धनिया (बारीक़ कटा हुआ) – थोड़ा
  • पानी – 1¼ कप

साबूदाने की खिचड़ी बनाने की विधि:-

सबसे पहले साबूदाने को बीनकर धो लें, अब इसे लगभग सवा कप पानी में 2 घंटे के लिए भीगने के लिए रख दें।

Advertisement

2 घंटे के बाद साबूदाना पानी सोख कर मुलायम हो जाता है.

अगर साबूदाना कड़ा लगता है तो थोड़ा और पानी डालकर कुछ और देर के लिए इसे और भीगने दें।

 sabudaana khichdi a

अब आप आलू को छीलकर धो लें, और फिर आलू को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। एक नॉन-स्टिक कड़ाही में घी या तेल गरम करिए.

अब इसमें मूँगफली के दाने डालिए और भूनिए।

मूँगफली के दाने को पूरी तरह से भूनने में 5-6 मिनट का समय लगता है, मूँगफली के दाने भुन जाने पर सौंधी सी खुश्बू आती है।

अब इसमें कटी हुई हरी मिर्च डालें और कुछ सेकेंड्स के लिए भूनें, कटे आलू इसमें डालिए। आलू को भी एक मिनट के लिए भूनिए।

अब इसमें नमक डालें और सभी सामग्री को अच्छे से मिलाएँ.

 sabudaana khichdi b

आँच को धीमा करके ढक्कन लगाकर आलू को गलाएँ. इसमें तकरीबन 5-6 मिनट का समय लगता है।

अब इसमें भीगा साबूदाना डालें और अच्छे से मिलाएँ साबूदाने को 2 मिनट तक अच्छे से भूनें ।

अब ढक्कन लगा कर साबूदाने को गलने दीजिए. इस प्रक्रिया में 3-4 मिनट का समय लगता है।

साबूदाना गलने के बाद पारदर्शी सा दिखता है. अगर साबूदाना नही गला है तो कुछ और देर ढककर पकाएँ फिर आँच को बंद कर दीजिए।

अगर आप चाहें तो व्रत वाला साबूदाने का पुलाव बना सकते है । ऐसी सूरत में आप इसमें सैंदा नमक का प्रयोग करें।

अब आपकी साबूदाना का पुलाओ तैयार है, आप इससे दही के साथ सर्व करें।

उपयोगी सुझाब:-

खिला-खिला पुलाव बनाने के लिए जितना साबूदाना आपने पुलाव बनाने के लिए लिया है उसके आधे नाप के बराबर पानी में साबूदाने को भिगो दीजिये, चार-पांच घंटे के बाद आप भीगे हुए साबूदाने को हवा में फैला कर फरेरा कर लें, इस साबूदाने का पुलाव बिखरा हुआ बनेगा।

साबूदाने की खिचड़ी में आलू फ्राई करके डालें, ऐसा करने से खिचड़ी चिपकेगी नहीं।

Recipe Summary:-

 

Leave a Reply

Rate Racepe!*