मूंग दाल का हलवा रेसिपी – Mung (Moong) ki Daal ka Halva (Halwa)

reena gupta By Reena Gupta, On

मूंग दाल का हलवा (हलुआ) सर्दियों में बहुत लोकप्रिय राजस्थान का प्रसिद्ध मीठा व्यंजन है। किसी भी पार्टी, शादी या विशेष अवसर पर Mung Dal ka Halwa डिजर्ट के रूप में सर्व किया जाता है।

मूंग की दाल का हलवा की तासीर गर्म होती है इस लिये सर्दियों के मौसम में इसको ज्यादा पसंद किया जाता है। अपने लाजबाब स्वाद, रंग और दानेदार स्वरूप के कारण Moong Dal ka Halva भारत की सभी मिठाइयों में विशिष्ट स्थान रखता है।

मूंग की दाल के हलवे को बनाने के लिये मुख्य सामग्री धुली हुई मूंग की दाल (पीली मूंग दाल), मावा (खोया), शुद्ध घी और चीनी है। आप स्वादानुसार चीनी की जगह गुड़ का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। हलवा का स्वाद बढ़ाने के लिये इसमें पसंदनुसार काजू, बादाम या किशमिश मिला कर इसके स्वाद को और भी क्लासिक बना सकते हैं।

मूंग दाल का हलवा बनाने के लिये पारंपरिक रूप से पहले मूंग की दाल को पानी में फूलोने के बाद पीस कर हलवा बनाते हैं पर आजकल सूखी मूंगदाल को पीस कर उसके पाउडर से भी हलवा बना लिया जाता है। हमने पारंपरिक मूंग दाल के हलवा बनाने की विधि को चित्रों और स्टेप्स के साथ शेयर किया है साथ ही साथ उपयोगी सुझावों में मूंग की दाल के पाउडर से हलवा बनाना भी बताया है।

आज रात को डिनर के बाद गरमा गर्म मूंग दाल का हलवा परिवार में सर्व कर सभी को इम्प्रेस कीजिये। आइये जानें घर पर आसानी से मूंग दाल का हलवा बनाने का तरीका और सामग्री….

 moong dal ka sheera

मूंग दाल का हलवा बनाने की सामग्री:-

  • मूंग की धुली दाल (Split & Skinned Green Gram) – 1 कप
  • शुद्ध घी / देसी घी (Desi Ghee) – 1 कप
  • मावा / खोया (Mava ) – 1 कप
  • चीनी (Sugar) – 1½ कप
  • काजू, बारीक कटे हुए (Cashew) – ¼ कप
  • किशमिश (Raisins) – ¼ कप
  • बादाम, बारीक कटे हुए (Almond) – ¼ कप
  • इलायची पाउडर (Cardamom Powder) – 1 चम्मच

मूंग दाल का हलवा बनाने की विधि:-

Moong Dal Halwa step 1

मूंग दाल हलवा बनाने के लिए सबसे पहले आप मूंग की दाल को धो कर तीन घंटे पानी में भिगो दीजिये।

भीगी हुई दाल को पानी से निकाल कर उसको मिक्सी में दरदरा पीस लीजिये।

Moong Dal Halwa step 2

मीडियम आंच पर एक कढ़ाई को गर्म कीजिये और उसमें शुद्ध घी के साथ दरदरी मूंग दाल को भून लीजिये।

लगभग 25 मिनट में दाल घी छोड़ देगी और वह कढ़ाई से भी नहीं चिपकेगी।

भुनने के बाद दाल को अलग बर्तन में निकाल लीजिये।

Moong Dal Halwa step 3

एक कढ़ाई में मावा (खोया) डालिये और उसे भी चलाते हुए हल्का भून लीजिये। भुनने के बाद उसे भी दाल वाले बर्तन में रख दीजिये।

Moong Dal Halwa step 4

मूंग की दाल और खोया के भुन जाने के बाद आप एक पेन में चीनी लीजिये और इसमें चीनी के बराबर मात्रा में पानी डाल कर गर्म करके उसकी चाशनी बना लीजिये।

चाशनी बनने के बाद पेन को गैस से उतार कर थोड़ा ठंडा होने दीजिये।

Moong Dal Halwa step 5

गुनगुनी चाशनी की कढ़ाई को दुबारा से गैस पर रखिये और उसमें दाल का मिश्रण एवं इलाइची पाउडर डाल दीजिये।

दाल के मिश्रण को धीमी आंच पर लगातार चलाते हुए पकाइये।

Moong Dal Halwa step 6

लगभग छ: से सात मिनट में चाशनी और दाल आपस में अच्छी तरह से मिल जाएगी और आपका दानेदार मूंग दाल का हलवा तैयार हो जाएगा।

गैस को बंद कर दीजिये और कटी हुई मन पसंद मेवा से हलुए को गार्निश कीजिये।

Moong Dal Halwa step 7

टेस्टी और पौष्टिक मूंग दाल के हलवे को सर्विसिंग बाउल में निकलिये, परिवार में सभी को सर्व करने के बाद आप भी खाइये।

.

उपयोगी सुझाब:

आइये जानते हैं कुछ ऐसे उपयोगी सुझाव जो स्वादिष्ट मूंग दाल हलवा बनाने, सर्व करने और स्टोर करने में निश्चित ही आपको सहयोग करेंगे….

मूंग दाल का हलवा बनाने सम्बन्धी सुझाव :-

मूंग दाल का हलवा मावा (खोए) को मिक्स करने की जगह पिसी हुई मूंग दाल को दूध के साथ पका कर भी बनाया जा सकता है पर इसमें समय बहुत अधिक लगता है इसी को बिना खोए का दूध वाला मूंग दाल का हलवा कहते हैं।

अगर आप मूंग की दाल का हलवा गुड़ के साथ बनाना चाहते हैं तब चीनी की चाशनी की जगह गुड़ की चाशनी बना लीजिये और इसी विधि से गुड़ वाला हलुआ बना लीजिये, इस हलवे का रंग थोड़ा डार्क रहेगा।

अगर आप मूंग दाल के पाउडर से हलवा बनाना चाहते हैं तब सूखी मूंग दाल को मिक्सर में पीस कर उसका पाउडर बना लीजिए, दाल के पाउडर को दाल की माप से दो गुना गुनगुने पानी में आधा घंटा भिगो लीजिये फिर तैयार पेस्ट से इसी विधि से स्वादिष्ट मूंग की दाल का हलवा बना लीजिये। इस तरह से आपका दाल भिगोने का समय बच जायेगा।

हलवे के स्वाद में बदलाव सम्बन्धी सुझाव :-

मूंग दाल के हलवे में शुद्ध देसी घी को इसकी मोहक सुगंध और विशिष्टा के कारण मिक्स किया जाता है, मगर आप इसकी जगह पर कोई भी एडेबिल ऑइल का प्रयोग कर सकते हैं।

इलायची पाउडर डिश को फ्लेवर देने के लिए काफी अच्छा होता है इसी लिये इसको मूंग दाल के हलवा में डाला जाता है।

इलाईची पाउडर की जगह आप केसर का यूज भी कर सकते हैं, केसर का रंग और सुगंध हलवे में चार चाँद लगा देगी।

स्टोर करने एवं सर्व करने सम्बन्धी सुझाव :-

मूंग दाल के हलुवा को आप 15 दिनों तक फ्रिज में रख करके खाने में उपयोग कर सकते हैं।

हलवे को फ्रिज से निकाल कर पहले रूम टेम्परेचर पर नॉर्मल कीजिये फिर इसमें थोड़ा दूध मिला कर गर्म करके सर्व कीजिये ताजे हलवे का स्वाद आयेगा।

भोजन के बाद मिठाई के रूप में मूंग दाल का हलवा वनीला आइसक्रीम के स्कूप के साथ गर्म या ठंडा सर्व कीजिये परिवार में सभी का मूड खिल जायेगा।

मूंग की दाल खाने के फायदे :-

भारत में मूंग दाल मुख्य भोजन का हिस्सा है स्टाइलक्रेज के एक आर्टिकल में मूंग दाल फाइबर और प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है, इसके सेवन से हंगर हार्मोन प्रभावित होता है, जो भूख को नियंत्रित करता है। मूंग दाल को स्प्राउट्स के तौर पर लेने से उसकी पौष्टिकता बढ़ जाती है। यह फाइबर और प्रोटीन से भरपूर होते हैं। N.C.B.I.(नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफार्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित शोध के अनुसार मूंगदाल में सेहत के लिए जरूरी फ्लेवोनोइड्स, फेनोलिक एसिड, कार्बनिक एसिड, अमीनो एसिड, कार्बोहाइड्रेट और लिपिड जैसे पोषक तत्वों की अच्छी मात्रा पाई जाती है।

अन्य स्वादिष्ट हलुआ की सचित्र रेसीपीज :-

Recipe Summary:

Share Recipe!
 

2 Responses

  1. Raju Gupta

    Nice and useful artical

    (5/5)
    Reply
  2. Kaveri

    Bahut easy h nice Mai v try krungi mujhe bahut pasand h mung daal ka halva thank you so much

    Reply

Leave a Reply

Rate Racepe!*