ईख के रस में पका चावल की खीर – Ganne ke ras ki Kheer

reena gupta By Reena Gupta, On

ईख के रस में पका चावल या गन्ने के रस की खीर भारत कि पारंपरिक मिठाई है। इस पोस्ट में घर पर आसानी से स्टेप बाई स्टेप चित्रों के साथ गन्ने कि खीर बनाने की विधि को शेयर किया है।

उत्तर भारत में लोहड़ी, मकर संक्रांति और गंगा स्नान के पावन अवसर पर ईख गन्ने के रस की खीर जरूर बनाई जाती है।

गन्ने के रस की खीर बनाने की मुख्य सामग्री ईख का रस और चावल ही है आप अपने स्वादानुसार इसमें सूखी मेवा और कद्दूकस किया हुआ नारियल मिक्स कर इसके स्वाद को और भी टेस्टी बना सकते हैं। कुछ जगह पर फीकी रबड़ी को इसमें मिक्स किया जाता है जिससे इसका स्वाद बहुत क्लासिक हो जाता है।

गन्ने के रस में कार्बोहाइड्रेट्स बहुतायत में होता है, इसके सेवन के बाद शरीर लंबे समय तक ऊर्जावान रहता है। एक शोध के अनुसार, व्यायाम के बाद शरीर को फिर से हाइड्रेट और तरोताजा करने के लिये ईख का रस अन्य स्पोर्ट्स ड्रिंक की तुलना में अधिक लाभकारी होता है।

बच्चों को स्कूल से आने के बाद या खेलने के बाद उनकी को एनर्जी को बूस्ट करने के लिये पौष्टिक गन्ने के रस कि खीर को सर्व कीजिये बच्चे खुशी के साथ इसको खाना पसंद करेंगे।

आइये जानते हैं ganne ki kheer kaise banti hai और इसको बनाने कि उपयोगी टिप्स को…..

Ganne ke ras ki Kheer

गन्ने के रस की खीर बनाने की सामग्री:-

  • ईख / गन्ने का रस (Sugarcane Juice) – 500 ग्राम
  • चावल बासमती (Basmati Rice) – 100 ग्राम
  • इलायची पाउडर(Cardamom) – 1 चम्मच
  • काजू बारीक कटे हुए (Cashew) – 8-10
  • बादाम बारीक कटे हुए (Almond) – 8-10
  • पिस्ता बारीक कटे हुए (Pistachio ) – 8-10
  • किशमिश के दाने (Raisins) – 8-10

गन्ने के रस की खीर बनाने की विधि:-

ganne ke ras ki kheer step 1

गन्ने के रस में चावल पकाने के लिये चावल को धोकर पानी में भिगो कर अलग रख दीजिये।

अब एक कढ़ाई में गन्ने के रस को उबालने रखिये।

ganne ke ras ki kheer step 2

उबलते-उबलते गन्ने के रस के ऊपर मैल आ जाता है, उस गंदगी को चित्रानुसार एक छलनी की सहायता से उतार दीजिये।

ganne ke ras ki kheer step 3

जब गन्ने का रस अच्छे से उबलने लगे तब इसमें भीगे हुए चावल और इलायची पाउडर डाल दीजिये।

अब खीर को धीमी आंच पर बीच-बीच में चलाते हुए पकने दीजिये।

आप यह चेक करते रहिये की चावल ठीक से पक गया है।

ganne ke ras ki kheer step 4

गन्ने के रस में चावल पकने के बाद खीर एक चिकने मिश्रण का रूप ले लेगी, और उसमे से सोंधी खुसबू आने लगेगी।

गैस बंद कर दीजिये।

ganne ke ras ki kheer step 5

आपकी स्वादिस्ट गन्ने के रस की खीर सर्व होने के लिये तैयार है।

इसको कटे हुए मेवे और किशमिश से गार्निश करके सभी को खिलाइये और स्वयं भी खाइये।

.

गन्ने के रस की खीर बनाने के टिप्स :-

आइये जानते हैं कुछ ऐसे सुझाव जो की स्वादिष्ट गन्ने की खीर बनाने और स्टोर करने में निश्चित ही आपको उपयोगी लगेंगे….

खीर बनाने के लिये गन्ने का चयन :-

स्वादिष्ट गन्ने के रस (जूस) के स्वाद के लिये हमेशा सैकेरम बार्बेरी प्रजाति के पीले हो चुके गन्ने का ही चुनाव कीजिये जिनकी पत्तियां सूख चुकी हों। ऐसे गन्ने पर जब आप उंगली से हल्की चोट मारकर देखेंगे तब किसी ठोस धातु से टकराने जैसी आवाज आयेगी आप समझ जाइये कि गन्ना पूरी तरह से पक चुका है इसका जूस निश्चित ही टेस्टी होगा जिससे हमारी खीर भी टेस्टी बनेगी।

गन्ने के रस की खीर में दूध मिलायें या खोया (मावा) :-

स्वाद में बदलाव के लिये गन्ने के रस की खीर में फीकी रबड़ी या फीका खोया (मावा) मिला कर सर्व कीजिये, यकीन कीजिये इससे ईख के रस में पका चावल का स्वाद बहुत अच्छा हो जायेगा और कम मीठा पसंद करने वाले तो इसके स्वाद के दीबाने हो जायेंगे।

गर्म गन्ने के रस में दूध ना मिलाएं ऐसा करने से खीर फट सकती है।

ईख के रस कि खीर को सर्व करना :-

गन्ने के रस की खीर को एक डेसर्ट के रूप में रात को भोजन के बाद ठंडी-ठंडी सर्व कीजिये, रस में पका चावल ठंडा ही अच्छा लगता है।

ईख के रस में पका चावल को स्टोर करना :-

गन्ने की खीर को चार-पाँच दिनों तक फ्रिज में रख कर स्टोर कर सकते हैं। सर्व करने से पहले सूखी मेवा और गोले के बुरादे से गार्निश कीजिये सभी इसके क्लासिक स्वाद को बहुत पसंद करते हैं।

गन्ने के जूस के पौष्टिक तत्व –

उ0प्र0 गन्ना शोध परिषद् के अनुसार 100 मिलीलीटर गन्ने के जूस में एनर्जी (ऊर्जा) 49 kcal, शुगर 8.55 ग्राम, कार्बोहाइड्रेट्स 11.48 ग्राम, आयरन 0.20 मिलीग्राम, मैग्नीशियम 11 मिलीग्राम, कैल्शियम 11 मिलीग्राम और पोटैशियम 160 मिलीग्राम पाया जाता है।

गन्ने के टुकड़ों को स्टोर करना :-

गन्ने के रस को तो स्टोर नहीं किया जाता लेकिन अगर आप गन्ने को स्टोर करना चाहते हैं तब उसको छोटे-छोटे टुकड़ों में काट कर, छिलका उतार कर प्लास्टिक से कवर करके फ्रिज में दो-तीन दिनों तक स्टोर कर सकते हैं, इससे ईख के पीस बाहरी नमी से ये बचे रहेंगे और आप अपनी इच्छानुसार इनको खा सकेंगे।

गन्ने कि खीर खाने के फायदे :-

गन्ने का रस तुरंत ऊर्जा का उत्तम स्रोत है और इसमें चावल का भरपूर फाइबर मिल जाने से यह एक स्वादिष्ट और पौषक व्यंजन बन जाता है। गन्ने कि खीर खाने के बाद जल्दी से भूख नहीं लगती जिससे हमारा बजन नियंत्रण में रहता है साथ ही साथ गन्ने के रस पीने के सभी लाभ जैसे रोग प्रतिरोधक क्षमता का बढ़ना, खांसी आदी गले से जुड़ी समस्याएं ठीक होती हैं और ईख के रस में पका चावल का सेवन हमारे बाल और नाखूनों के लिये भी लाभदायक है।

कुछ अन्य स्वादिष्ट खीर की सचित्र रेसीपीज :-

Recipe Summary:-

Share Recipe!
 

One Response

  1. Alen Gupta

    Aapane bahut acchi Tarah Chitron ke sath recipe Badli hai bahut swadisht khir Bani

    (5/5)
    Reply

Leave a Reply

Rate Racepe!*