सुखड़ी ( गुड़ पापड़ी ) – Sukhdi Recipe

, , 1 Comment

गुजरात और महाराष्ट्र में फेमस सुखड़ी को गुड़ में गेहूँ के आटे को मिला कर बनाया जाता है, आसानी से बन जाने वाली इस पारम्परिक मिठाई को सर्दियों के मौसम में बहुत खाया जाता है।

हम भारतीय मिठाई को बहुत पसंद करते है, ऐसा माना जाता है कि मिठाइयों में कैलोरी की मात्रा बहुत अधिक होती है। लेकिन गुड़ के साथ बनी कुछ पापंपरिक मिठाइयां आज भी ऐसी है जिनका सेवन हमारी सेहत के लिये लाभकारी होता है। ऐसी ही एक मिठाई गेहूँ की सुखड़ी है।

सुखड़ी को महाराष्ट्र में गोल पपड़ी या गुड़ पापड़ी और उत्तर भारत में आटे की बर्फी, गेहूँ बर्फी, और आटे की कतली कहते हैं। सुखड़ी को चीनी की चाशनी में भी बनाया जाता है पर गुड़ के साथ बनी सुखड़ी स्वास्थ्यवर्धक मानी जाती है।

विशेष रूप से त्योहारों पर बनायी जाने वाली सुखड़ी को आप स्वादानुसार नाश्ते के रूप में कभी भी बना कर खा और खिला सकते हैं। सुखड़ी स्वास्थवर्धक और इम्युनिटी को बूस्ट करने वाली होती है। सुकड़ी एक ठोस पौष्टिक अल्पाहार है जिसको खाने के बाद जल्दी भूख नहीं लगती।

तीन मुख्य सामग्री गेहूँ का आटा, गुड़ और शुद्ध घी से बनायी जाने वाली आटे की सुखड़ी में पसंदानुसार मेवा मिला कर सुकड़ी (गोल पापड़ी) के स्वाद को और भी बढ़ाया जा सकता है। शुद्ध घी के साथ पीनत बटर को मिला कर बनी सुखड़ी भरपूर ताकत का एक जबरदस्त स्वादिष्ट स्नेक होती है।

अगर आप पहली बार गुड़ से कोई मिठाई बना रहे है तब आप बहुत आसानी से इस रेसपी की सहायता से बच्चों की ख़ास पसंद गुड़ पापड़ी या सुकड़ी बना लेंगे। साथ ही इस सुखड़ी रेसीपे में चित्रों के साथ आवश्यक सामग्री और टिप्स को सरल भाषा में बताया गया है..

 gud paapdi

गुड़ पापड़ी (सुकड़ी) बनाने की सामग्री:-

  • गेहूं का आटा- 200 ग्राम
  • गुड़ (कद्दूकस किया हुआ )- 150 ग्राम
  • शुद्ध देसी घी- 150 ग्राम
  • बादाम (बारीक कटे हुए)- 10-12
  • इलाइची (पाउडर)- 1/2 चम्मच
  • जायफल (पाउडर)- 1/2 चम्मच

सुकड़ी (गुड़ पापड़ी) बनाने की विधि:-

 gol papdi step 1

एक पेन में घी पलट कर उसको गर्म कीजिये।

 gol papdi step 2

गर्म घी में आटा डालिये और लगातार चलाते हुए भूनिये।

 gol papdi step 3

जब आटा भुन कर घी में मिक्स हो जायेगा तब उसमे से बहुत अच्छी सुगंध आने लगेगी।

 gol papdi step 4

इस भुने हुए आटे में बादाम के पीस मिला लीजिये।

 gol papdi step 5

मेवा मिले इस मिक्सचर में कद्दूकस किया हुआ गुड़ मिला लीजिये।

 gol papdi step 6

मिक्सचर को जमने लायक थिक होने तक लगातार चलाते रहिये।

 gol papdi step 7

एक ट्रे को घी लगाकर चिकना कर लीजिये, और उसमें तैयार मिक्सचर को पलट दीजिये।

 gol papdi step 8

ठंडा होने के बाद सुखड़ी को मन पसंद आकार में काट कर सबको टेस्टी और इम्युनिटी बूस्टर सुखड़ी को सर्व कीजिये।

.

उपयोगी सुझाब:

सुखड़ी को अगर गोल आकार में काट लें तब इसको गोल पापड़ी या गुड़ पापड़ी कहा जाता है।

सुकड़ी में मेवा आप अपने स्वादानुसार कोई भी डाल सकते हैं।

सर्दियों के मौसम में सुखड़ी को गोंद डाल कर बनाइये, सुखड़ी बहुत टेस्टी लगेगी।

गेहूँ का आटा धीमी आँच पर ही भूनिये, इससे सुकड़ी का स्वाद और कलर बहुत अच्छा आयेगा।

अगर जायफल का पाउडर न मिले तब एक जायफल को कद्दूकस से घिस कर मिश्रण में मिला लीजिये।

आप अपनी रूचि के अनुसार मेवों को क़तर कर सुखड़ी के ऊपर भी लगा सकते हैं।

गुड़ एक सुपर फ़ूड है, सुखड़ी खाने से गुड़, शुद्ध घी और गेहूँ तीनो के स्वास्थ लाभों को आप टेस्ट के साथ ले सकते हैं।

सुखड़ी (गोल पपड़ी) को हमेशा एयरटाइट डिब्बे में ही स्टोर कीजिये।

घर पर मूंगफली का मक्खन (पीनत बटर) बनाने की आसान विधि जानने के लिये लिंक पर क्लिक कीजिये।

Recipe Summary:

 

One Response

  1. गोरी गोयल, दिल्ली

    ग्रेट वर्क मेम, बहुत अच्छी विधि से सुकड़ी बनायी है, समझाया भी अच्छा है।

    (5/5)
    Reply

Leave a Reply

Rate Racepe!*